Part-3/महिला एवं बाल उत्पीड़न अपराध महत्वपूर्ण प्रश्न By Jepybhakar



महिला एवं बाल उत्पीड़न अपराध महत्वपूर्ण प्रश्न Part-3 By Jepybhakar

प्रश्न 41. यदि किसी लड़की की विवाह के 7 साल के भीतर असामान्य परिस्थितियों में मौत होती है और यह साबित कर दिया जाता है कि मौत से पहले उसे दहेज के लिए प्रताड़ित किया जाता था तो भारतीय दंड संहिता की किस धारा के अंतर्गत लड़की के पति और रिश्तेदारों को कारावास की सजा का प्रावधान है?
() 304 बी               () 306       () 498 ए      () 354



उत्तर - a




प्रश्न 42. यदि किसी लड़की की विवाह के 7 साल के भीतर असामान्य परिस्थितियों में मौत होती है और यह साबित कर दिया जाता है कि मौत से पहले उसे दहेज के लिए प्रताड़ित किया जाता था, तो भारतीय दंड संहिता की धारा 374 बी के अंतर्गत लड़की के पति और रिश्तेदारों को कम से कम कितने वर्ष की सजा से लेकर आजीवन कारावास की सजा का प्रावधान है?
() 3 वर्ष     () 5 वर्ष          
() 7 वर्ष     () 10 वर्ष


उत्तर -




प्रश्न 43. मेहर की रकम दहेज में-
() सम्मिलित नहीं की जाती है।
() सम्मिलित नहीं की जाती है, यदि व्यक्ति पर मुस्लिम पर्सनल लॉ (शरीयत) लागू होता है।
() बी दोनों कथन सही है
() उपरोक्त में से कोई नहीं


उत्तर -




प्रश्न 44. दहेज से संबंधित स्थितियां है?
() विवाह से पूर्व
() विवाह के समय
() विवाह के पश्चात
() उपरोक्त सभी



उत्तर -




प्रश्न 45. असंगत तथ्य है?
() शादी के वक्त जो उपहार और जेवर लड़की को दिए जाते हैं, वह स्त्रीधन कहलाते हैं।
() लड़के और लड़की के कॉमन उपयोग के सामान जैसे फर्नीचर, टीवी आदि स्त्रीधन में आते हैं
() लड़की जो सामान अपने साथ लेकर आती है या उसके पति को या उसके पति के रिश्तेदारों को दिए जाते हैं वह उपहार के दायरे में आते हैं।
() कोई संपत्ति या बहुमूल्य प्रतिभूति देना या देने के लिए प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से देना दहेज में नहीं आता है।

उत्तर -




प्रश्न 46. दहेज निषेध अधिनियम की किस धारा में दहेज निषेध पदाधिकारी की नियुक्ति से संबंधित है?
() धारा 4
() धारा 4
() धारा 8
() धारा 8 बी

उत्तर -





प्रश्न 47. "दहेज का मतलब है कोई संपत्ति या बहुमूल्य प्रतिभूति देना या देने के लिए प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से" दहेज निषेध अधिनियम की किस धारा में कहा गया है?
() धारा 2
() धारा 3
() धारा 4
() धारा 8 बी

उत्तर - a




प्रश्न 48. संगत है?
() धारा 3 - दहेज लेने या देने का अपराध
() धारा 4 - दहेज की मांग के लिए जुर्माना
() धारा 4 - किसी व्यक्ति द्वारा प्रकाशन या मीडिया के द्वारा पुत्र पुत्री के शादी के एवज में व्यवसाय या संपत्ति या हिस्से का कोई प्रस्ताव
() धारा 6 - घटना से 1 वर्ष के अंदर शिकायत

उत्तर -




प्रश्न 49. दहेज निषेध अधिनियम की धारा 6 संबंधित है?
() घटना के 1 वर्ष के अंदर शिकायत से
() दहेज निषेध पदाधिकारी की नियुक्ति से
() कोई दहेज विवाहिता के अतिरिक्त अन्य व्यक्ति द्वारा धारण किया जाना
() दहेज की मांग के लिए जुर्माना


उत्तर -




प्रश्न 50. दहेज निषेध अधिनियम की धारा 8 संबंधित है?
() घटना के 1 वर्ष के अंदर शिकायत से
() दहेज निषेध पदाधिकारी की नियुक्ति से
() कोई दहेज विवाहिता के अतिरिक्त अन्य व्यक्ति द्वारा धारण किया जाना
() दहेज की मांग के लिए जुर्माना


उत्तर - a



प्रश्न 51. स्त्री अशिष्ट रूप प्रतिषेध अधिनियम 1986 के संबंध में परिभाषित किया गया हैं?
() जिससे उसकी लज्जा भंग हो सकती हो या जनसाधारण के नैतिक चरित्र पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता हो
() किसी महिला की आकृति, उसके रूप या शरीर उसके किसी भाग का इस प्रकार वर्णन या चित्रण करना जिससे उसका चरित्र कलंकित हो तथा जिससे दुराचार, भ्रष्टाचार या लोक अप्रदुषण अथवा नैतिकता की हानि होने की संभावना हो। अश्लील चित्रण की परिधि में आएगा।
() ऐसा करना महिलाओं का स्त्री अशिष्ट रूपण (प्रतिषेध) अधिनियम 1986 के अधीन दंडनीय अपराध है।
() उपरोक्त सभी सही है

उत्तर -




प्रश्न 52. स्त्री अशिष्ट रूप प्रतिषेध अधिनियम 1986 के अंतर्गत प्रथम बार अपराध करने पर कितने वर्ष तक की सजा का प्रावधान है?
() 1 वर्ष
() 2 वर्ष
() 3 वर्ष
() 7 वर्ष

उत्तर -




प्रश्न 53. स्त्री अशिष्ट रूप प्रतिषेध अधिनियम 1986 के अंतर्गत प्रथम बाल अपराध करने पर 2 वर्ष तक की सजा तथा जुर्माने का प्रावधान है?
() रू 500
() रू 1000
() रू 2000
() रू 5000

उत्तर -



प्रश्न 54. स्त्री अशिष्ट रूप प्रतिषेध अधिनियम 1986 के अंतर्गत दूसरी बार अपराध करने पर न्यूनतम कितने वर्ष की सजा का प्रावधान है?
() 3 माह
() 6 माह
() 9 माह
() 18 माह

उत्तर -




प्रश्न 55. स्त्री अशिष्ट रूप प्रतिषेध अधिनियम 1986 के अंतर्गत दूसरी बार अपराध करने पर न्यूनतम 6 माह की सजा से कितने वर्ष तक की सजा का प्रावधान है?
() 2 वर्ष
() 3 वर्ष
() 5 वर्ष
() 7 वर्ष

उत्तर -




प्रश्न 56. स्त्री अशिष्ट रूप प्रतिषेध अधिनियम 1986 के अंतर्गत दूसरी बार अपराध करने पर न्यूनतम 6 माह की सजा से 5 वर्ष तक की सजा तथा जुर्माना है?
() न्यूनतम ₹10000 से 1 लाख तक
() न्यूनतम ₹10000 से 50000 तक
() न्यूनतम ₹5000 से 1 लाख तक
() न्यूनतम ₹5000 से 50000 तक

उत्तर - a





प्रश्न 57 . किस वर्ष में " कमीशन ऑफ सती (रोकथाम) अधिनियम 1987 के अधिनियमन के साथ भारत की संसद का एक अधिनियम बन गया?
() 1987
() 1988
() 1989
() उक्त में से कोई नहीं

उत्तर -


प्रश्न 58. सती को पहली बार विनियमन किया गया?
() बंगाल सती विनियमन, 1822
() बंगाल सती विनियमन, 1829
() बंगाल सती विनियमन, 1831
() बंगाल सती विनियमन, 1842



उत्तर -

प्रश्न 59. घरेलू हिंसा से महिलाओं का संरक्षण अधिनियम 2005 कब से लागू हुआ?
() 26 जनवरी 2006
() 8 मार्च 2006
() 26 अक्टूबर 2006
() 26 नवंबर 2006

उत्तर -

प्रश्न 60. घरेलू हिंसा से महिलाओं का संरक्षण अधिनियम 2005 के तहत दिए गए सरंक्षण आदेशों का उल्लंघन होने पर  प्रतिवादी को कितने वर्ष तक की सजा या जुर्माना या दोनों हो सकता है?
() 6 माह, ₹ 20,000
() 1 वर्ष, ₹ 20,000
() 6 माह, ₹ 10,000
() 1 वर्ष, ₹ 10,000

उत्तर -




प्रश्न 61. घरेलू हिंसा से महिलाओं का संरक्षण अधिनियम 2005 कानून में याचिका करने के लिए एक प्रारूप सुझाया गया है जिसका नाम है?
() महिला सरंक्षण प्रारूप
() महिला घरेलू हिंसा सरंक्षण प्रारूप
() घरेलू घटना रिपोर्ट
() उपरोक्त में से कोई नहीं




उत्तर -



महिला एवं बाल अपराध, महिला उत्पीड़न कानून, बाल उत्पीड़न कानून, महिला एवं बाल उत्पीड़न अपराध, महिला अपराध अधिनियम, महिला एवं बाल श्रम अधिनियम, women and child crime, women crime Rajasthan police Important Questions No. 21 to 40 by Jepybhakar , Rajasthan gk important questions by jepybhakar


SHARE

Author

I am Jepy Bhakar From nagaur I am a Governement Servenet in Rajasthan Goverment .

  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 Comments:

Post a comment