general science notes in hindi pdf free download -3

सामान्य विज्ञान नोट्स इन हिन्दी पीडीएफ फ्री डाउनलोड

General science important notes in hindi PDF free download (atoms and molecules) by Jepybhakar

In this paragraph, I am providing top General science gk One Liner Question answer notes topic wise for those learners. Today’s topic in our general science is atoms and molecules.

Hello Friends , आज की हमारी पोस्ट सामान्य विज्ञान (General Science) से संबंधित है, इस पोस्ट में हम आपको विज्ञान के बहुत ही Important Question and Answer उपलब्ध कराऐंगे, ये सभी Questions पिछले Competitive Exams में आ चुके हैं और आने वाले Competitive Exams (SSC CGL, Bank, Police, Patwari) के लिये बहुत ही उपयोगी हैं ! तो आप इन्हें अच्छे से पढिये और याद कर लीजिये और हां आखिर इनकी PDF Download करना मत भूल जाना ! 

जनरल साइंस क्वेश्चन (परमाणु एवं अणु) :-

परमाणु मूलकणखोजकर्ताआवेशद्रव्यमान (कि.ग्रा.)
इलेक्ट्राॅनजे. जे. थाॅमसनऋणावेश(1.6 x 10-19 C)9.1 x 10-31
प्रोटाॅनगोल्डस्टीनधनावेश1.67 x 10-27
न्यूट्राॅनजेम्स चैडविकउदासीन1.67 x 10-27

 

कणाद के अनुसार सभी पदार्थ अत्यन्त सूक्ष्म कणों से बने है, जिसे परमाणु कहा गया।

पदार्थ का परमाणु स्द्धिांत किसने प्रतिपादित किया – 1803 ई. में जाॅन डाल्टन।

इलेक्ट्राॅन की तरंग प्रकृति की खोज डी-ब्रोग्ली ने की थी।

परमाणु के नाभिक का आकार – 10-15 मीटर।

पाॅजिट्राॅन की खोज एण्डरसन ने की थी।

किसमें न्यूट्राॅन अनुपस्थित होता है – हाइड्रोजन।

किसी तत्व की परमाणु क्रमांक (परमाणु संख्या) किससे संदर्भित की जाती है – परमाणु के प्रोटोन की संख्या से।

किसी तत्व का परमाणु भार (द्रव्यमान संख्या) किससे संदर्भित की जाती है – परमाणु में उपस्थित प्रोटोन और न्युट्राॅन की संख्या का योग। 

किसी तत्व का परमाणु भार (द्रव्यमान संख्या)
किसी तत्व का परमाणु भार (द्रव्यमान संख्या)

कैथोड़ किरण प्रयोग में परमाणु के किस मौलिक कण की खोज की गई – इलेक्ट्राॅन

केनाल रे धनावेशित किरण तथा इन पर आवेश इलेक्ट्राॅन के बराबर लेकिन विपरीत था इनको प्रोटाॅन नाम दिया गया।

इसकी खोज का श्रेय दिया जाता है – 1886 ई. में गोल्डस्टीन को।

सल्फर तत्त्व के अणु में परमाणुओं की संख्या सर्वाधिक होती है जो है – 8

किसी एक ही तत्त्व के वे परमाणु जिनकी परमाणु संख्या (प्रोटोनों की संख्या) समान हो, परन्तु परमाणु भार (न्यूट्राॅनों की संख्या) भिन्न-भिन्न हो समस्थानिक कहलाते है।

हाइड्रोजन के तीन समस्थानिक होते है –
1. प्रोटियम – इसमें प्रोटोन की संख्या एक एवं न्यूट्राॅन की संख्या शुन्य होती है।
2. ड्यूटीरियम – इसमें प्रोटोन की संख्या एक एवं न्यूट्राॅन की संख्या एक होती है।
3. ट्राइटियम – इसमें प्रोटोन की संख्या एक एवं न्यूट्राॅन की संख्या दो होती है। इसकी खोज 1920 ई. में वाल्टर रसेल ने की थी।

हाइड्रोजन के समस्थानिक
हाइड्रोजन के समस्थानिक

किसी दो तत्त्व जिनमें इलेक्ट्राॅनों की संख्या भिन्न-भिन्न, लेकिन उनकी द्रव्यमान समान हो, समभारिक कहलाते है।

रेडियोएक्टिव विघटन की क्रिया में तीन प्रकार की विकिरण निकलते है –
1. अल्फा कण – धनात्मक कण होते हैं। (यह हीलियम तत्त्व के परमाणु के समान)। इनकी भेदन शक्ति कम व आयनन शक्ति सर्वाधिक होती है।
2. बीटा कण – ये तीव्रगामी इलेक्ट्राॅन होते है। इन पर आवेश इलेक्ट्राॅन के तुल्य ऋण आवेश होता है।
3. गामा कण – ये विद्युत चुम्बकीय तरंगे होती है। इनकी भेदन क्षमता सर्वाधिक होती है परन्तु आयनन क्षमता कम होती है। ये किरणें विद्युत व चुम्बकीय क्षेत्र से प्रभावित नहीं होती है।

परमाणु भट्टी में:-
इंधन – यूरेनियम-235।
शीतलक – द्रव सोडियम, कार्बन डाई आॅक्साइड गैस, जल या डी2ओ।
मंदक – ग्रेफाइट अथवा भारी जल।
नियंत्रक छड़े – बोराॅन अथवा कैडमियम।

सुर्य में ऊर्जा का स्त्रोत है – नाभिकों का संलयन (संलयन प्रक्रिया में ड्यूटीरियम और ट्राइटियम के नाभिक आपस में संकलित होकर हीलियम का नाभिक बनाते है)।

हाइड्रोजन बम सिद्धांत पर काम करता हैं – अनियंत्रित संलयन अभिक्रिया।

सामान्य विज्ञान नोट्स इन हिन्दी पीडीएफ फ्री डाउनलोड

हाइड्रोजन बम की खोज सन् 1952 में एडवर्ड टेलर ने की थी।

परमाणु बम किस सिद्धांत पर काम करता है – नाभिकीय विखण्डन पर। (जब किसी भारी तत्त्व के नाभिक को न्यूट्राॅन से बम्बार्ड किया जाता है तो वह बेरियम और क्रिप्टाॅन के दो नाभिकों से टूट जाता है यही नाभिकीय विखण्डन कहलाता है।)

नाभिकीय विखण्डन की खोज एफ. स्ट्राॅसमैन और ओटो हान ने की थी।

अमेरिका ने जापान पर 6 अगस्त, 1945 तथा 9 अगस्त, 1945 को क्रमशः हिरोशिमा तथा नागासाकी पर परमाणु बम गिराये।

18 मई, 1974 तथा 11 मई, 1998 को पोकरण में किये गये भूमिगत परीक्षण नाभिकीय विखण्डन क्रिया पर आधारित थे।

काॅपर सल्फेट के नीले क्रिस्टल के साथ पानी के कितने अणु जुड़े होते है – 5 अणु

विशिष्ट मूल कण बोसाॅन का नाम भारतीय वैज्ञानिक सत्येन्द्र नाथ बसु के नाम पर रखा गया है।

बाॅयल का नियम – स्थिर ताप पर गैस की नियत मात्रा का आयतन उसके दाब का व्युत्क्रमानुपाती होता है।

चाल्र्स का नियम – स्थिर दाब पर किसी गैस की नियत मात्रा का आयतन उसके परमताप का सीधा अनुपाती होता है।

परमताप – 273 + t0 C

अल्फा कण किरणों के प्रकीर्णन से नाभिक के आकार का आकलन किया जा सकता है।

molecular formula
molecular formula

प्रोजिट्राॅन इलेक्ट्राॅन का प्रतिकण है।

एक परमाणु में दो इलेक्ट्राॅन की चारों क्वान्टम संख्याएं आपस में समान नहीं हो सकती है। यह नियम पाऊली से संबंधित है।

मेसाॅन के खोजकर्ता थे – युकावा।

आण्विक कक्षा का अभिविन्यास किससे नियंत्रित होता है – चुम्बकीय क्वान्टम संख्या।

General science important one liner questions answer notes in hindi PDF free download click below link :- 

Click Here PDF Download

Read More –

lucent general science notes in hindi pdf free download, general science handwritten notes pdf in hindi, general science book pdf in hindi, arihant general science pdf in hindi download, science notes in hindi pdf class 10, general science notes pdf, wifistudy science pdf download hindi, 5000+ general science question in hindi pdf3

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here